सुखविंदर कौर मरवाहा
चंडीगढ़, 11 सितम्बर:कोविड महामारी के दौरान राज्य भर के सरकारी और निजी अस्पतालों में मैडीकल ऑक्सीजन की निर्विघ्न सप्लाई को यकीनी बनाने के लिए स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने आज कहा कि राज्य सरकार ने ऑक्सीजन सिलंडरों के उत्पादन और पुन: भराव के लिए विस्तृत प्रबंध किए गए हैं।

और अधिक जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लुधियाना जि़ले के अस्पतालों को मैडीकल ऑक्सीजन की सप्लाई यकीनी बनाने के अलावा जि़ला प्रशासन ने ज़रूरत के अनुसार अन्य जि़लों को ऑक्सीजन की सप्लाई यकीनी बनाने के लिए पुख़्ता प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने बताया कि डिप्टी कमिश्नर लुधियाना वरिन्दर कुमार शर्मा के ठोस यत्नों के स्वरूप लुधियाना में रोज़ाना के 800 ऑक्सीजन सिलंडरों के उत्पादन और रोज़ाना के 3000 सिलंडरों की भराई के लिए सभी प्रबंध किए हैं।

सिद्धू ने कहा कि लुधियाना सबसे बड़ा और राज्य में कोविड से सबसे अधिक प्रभावित जि़लों में से एक है। उन्होंने बताया कि डिप्टी कमिश्नर वरिन्दर कुमार शर्मा ने अस्पतालों को मैडीकल ऑक्सीजन की सप्लाई तुरंत शुरू करने के लिए लुधियाना के उद्योगपतियों को कहा है। इससे पहले वेलटेक इक्विपमेंट्स एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड का ग्यासपुरा गाँव में स्थापित एक प्लांट सिफऱ् उद्योगों के लिए ऑक्सीजन का उत्पादन करता है। इसी तरह ऑक्सीजन के ज़्यादातर सप्लायरों के पास मैडीकल ऑक्सीजन की सप्लाई का लाइसेंस नहीं था।

लुधियाना के डिप्टी कमिश्नर द्वारा स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव के साथ तालमेल करके लुधियाना के पाँच ऑक्सीजन सप्लायरज़ (हरप्रीत क्रायोजीनिक्स, जी.डी.आर. गैसेज़, वैलटेक इक्विपमैंट्ज़, बीओसी गैसेज़ और अपरना गैसेज़) को मैडीकल ऑक्सीजन रीपैकिंग लाइसेंस जारी किए गए हैं। मैसर्ज वेलटेक इक्विपमेंट्स एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की एक निर्माण इकाई को मैडीकल ऑक्सीजन के उत्पादन के लिए लाइसेंस जारी किया गया है। यह लुधियाना में दिया गया पहला लाइसेंस है, जिससे मैडीकल ऑक्सीजन की कमी पूरी हुई है।

जि़ला प्रशासन की प्रेरणा से, वैलटेक इक्विपमैंट्ज़ ने ‘संभव’ फाउंडेशन के बैनर अधीन जरूरतमंद व्यक्तियों के लिए ऑक्सीजन सिलंडरों की मुफ़्त सप्लाई शुरू की गई है। जरूरतमंद इस मुफ़्त सेवा का लाभ लेने के लिए मोबाइल नंबर 97799-18899 और 98140-27317 पर संपर्क कर सकते हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि डिप्टी कमिश्नर, लुधियाना और नोडल अफ़सर मैडीकल ऑक्सीजन की सप्लाई को यकीनी बनाने के लिए सोलन (हिमाचल प्रदेश), पानीपत (हरियाणा) और देहरादून (उत्तराखंड) के डिप्टी कमिश्नर के साथ लगातार संपर्क में हैं, जिससे कोरोना के मरीज़ों को किसी किस्म की मुश्किल का सामना न करना पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here