सुखविंदर कौर मरवाहा
फगवाड़ा , 15 सितम्बर: बसपा के प्रदेश अध्यक्ष जसवीर सिंह गढ़ी ने फगवाड़ा में पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना में घोटाले के खिलाफ, साधु सिंह धर्मसोत की बर्खास्तगी और किसानों की फसलों के एमएसपी के हित में कृषि अध्यादेश को निरस्त करने के लिए विरोध किया व विरोध आंदोलन के बाद आज एक प्रेस नोट जारी किया गया। गढ़ी ने कहा कि यदि पिछले 20 दिनों से कांग्रेस ने कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को मंत्रिमंडल से नहीं हटाया तो यह एक स्पष्ट संकेत था कि घोटाले का हिस्सा मुख्यमंत्री को मिला है। छात्रों को संबोधित करते हुए सरदार गढ़ी ने कहा कि यदि कोई भी शैक्षणिक संस्थान छात्रों के डिग्री प्रमाण पत्र को वापस नहीं देता है तो बीएसपी पंजाब विधायर्थिओ की यह लड़ाई भी लड़ेगा। पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना एस सी, बी सी और अल्पसंख्यक वर्गों के छात्रों के लिए एक सुनहरा अवसर था, जिन्हें केंद्र और राज्य स्तर पर कांग्रेस सरकार व अकाली भाजपा द्वारा कुचल दिया गया है।

कृषि अध्यादेश पर बोलते हुए बसपा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पंजाब के किसानों के हित में इस अध्यादेश को तुरंत रद्द किया जाना चाहिए और किसानों को फसल के एमएसपी पर कानूनी आश्वासन दिया जाना चाहिए। किसानों के हित में हर कुर्बानी देने के शिरोमणि अकाली दल के बयान पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि अकाली दल के शब्दकोश में कुर्बानी नाम कुरसी होनी होगा, जो आज तक नहीं छोड़ी गई। आब बसपा पंजाब में किसान मजदूर मुलाजिम व्यापारी व विद्यार्थी की आजादी की लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने कहा कि बसपा 18 सितंबर को होशियारपुर, 21 सितंबर को अमृतसर, 24 सितंबर को 117 विधानसभा स्तर पर पंजाब भर में, 28 सितंबर को बठिंडा में, 29 सितंबर को पटियाला में खेती आध्यादेश रद्द और पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना घोटाले में दोषियों को सजा के लिए आंदोलनरत रहेगी। बसपा कांग्रेस को बेनकाब करने और इस घोटाले के तहत साधु सिंह धर्मसोत को बर्खास्त करने के लिए आंदोलन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here