नई दिल्ली ,13 दिसंबर । आयकर विभाग ने आज देश के प्रमुख बिटकॉइन एक्सचेंजों में छापेमारी की। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कथित रूप से कर चोरी के मामले में यह कार्रवाई की गई। आयकर विभाग की बेंगलुरु जांच इकाई की अगुवाई में विभाग की विभिन्न टीमों ने दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोच्चि और गुरग्राम सहित नौ एक्सचेंज परिसरों की पड़ताल की।
यह कार्रवाई इनकम टैक्स लॉ के सेक्शन 133 ए के तहत की गई। इस धारा के तहत कार्वाई का मकसद निवेशकों और व्यापारियों की पहचान के लिए प्रमाण जुटाना, उनके द्वारा किए गए सौदे, दूसरे पक्षों की पहचान, इस्तेमाल किए गए बैंक खातों आदि का पता लगाना होता है।
सूत्रों ने बताया कि छापेमारी करनेवाली टीमों के पास इन एक्सचेंजों के बारे में विभिन्न प्रकार के वित्तीय आंकड़े और अन्य ब्योरे थे। देश में उनके खिलाफ यह पहली बड़ी कार्रवाई है। बिटकॉइन एक आभासी मुद्रा है। देश में इसका रेग्युलेशन नहीं होता। इसके बढ़ते चलन से दुनियाभर के केंद्रीय बैंक चिंतित हैं।
भारतीय रिजर्व बैंक ने इस तरह की आभासी मुद्रा रखनेवाले लोगों को इसके बारे में आगाह किया है। इस साल मार्च में केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने देश और वैश्विक स्तर पर आभासी मुद्राओं पर एक अंतर अनुशासनात्मक समिति का गठन किया था।
००

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here