स्मार्टफोन एप डिप्रेशन के लिए एक प्रभावी उपचार विकल्प हैं, जो मानसिक विकार वाले लाखों लोगों के लिए सुरक्षित और सुलभ हस्तक्षेप के लिए रास्ता तैयार कर सकते हैं. शोधकर्ताओं ने इस बात की पुष्टि की है. परिणाम बताते हैं कि स्मार्टफोन अवसादग्रस्त लोगों की देखभाल के लिए आत्मप्रबंधित और व्यवस्थित अवसर दे सकते हैं, क्योंकि स्मार्टफोन उन्हें अपने मानसिक स्वास्थ्य पर नजर रखने, समझने और प्रबंधित करने में सहायता कर सकते हैं.
ऑस्ट्रेलिया के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कॉम्प्लीमेंटरी मेडिसिन (एनआईसीएम) में पोस्ट डॉक्टरेट रिसर्च फेलो और शोध के मुख्य लेखक जोसेफ फर्थ ने कहा कि विकसित देशों के अधिकांश लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं, जिनमें युवा लोग अवसाद से ग्रस्त हैं.
फर्थ ने कहा कि स्मार्टफोन डिवाइस अंतत: अवसाद के लिए तत्काल सुलभ और अत्यधिक प्रभावी उपचार प्रदान करने में सक्षम हो सकते हैं, जिससे दुनिया भर में इस स्थिति के सामाजिक और आर्थिक बोझ को कम किया जा सकता है.
शोधकर्ताओं ने वर्ल्ड साइकेट्री पत्रिका में प्रकाशित पत्र में कहा है कि एक एकीकृत चिकित्सा दृष्टिकोण के रूप में उपयोग किए जाने वाले एप्स विशेष रूप से मनोदशा में सुधार लाने और रोगों में कई मानसिक स्वास्थ्य लक्षणों और प्रमुख अवसाद, हल्के से मध्यम अवसाद, दिमागी विकार, चिंता और अनिद्रा जैसे लक्षणों से निपटने में उपयोगी हो सकते हैं.
इस अध्ययन में 18-59 की उम्र की बीच के 3,400 अधिक पुरुष और महिला प्रतिभागियों को शामिल किया गया था. जिसमें पता चला कि स्मार्टफोन एप डिप्रेशन के लिए एक प्रभावी उपचार विकल्प हैं, जो मानसिक विकार वाले लाखों लोगों के लिए सुरक्षित और सुलभ हस्तक्षेप के लिए रास्ता तैयार कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here